Saturday 29 September 2012

तो ही अच्छा है

कुछ बातों को समझने में देर ना हो तो ही अच्छा है,
 कम ही होती हैं वो बातें  जिनकी समझाइश वक़्त की मोहताज नहीं होती..!
 
 कुछ उम्मीदें किसी से इंसान को ना हो तो ही अच्छा है,
 कम ही होती हैं वो उम्मीदें जिनकी पोशाकें आखिर तक उम्रदराज नहीं होती..!
 
 कुछ पहचानें इंसान के आज में शामिल ना हो तो ही अच्छा है,
 कम ही होती हैं वो पहचानें जिनकी पेशी अँधेरे का आगाज़ नहीं होती..!
 
 कुछ मौकों की रात लापरवाह नींदों में जाया ना हो तो ही अच्छा है,
 कम ही होती हैं वो नींदें जिनके खुलने तक रात नाराज़ नहीं होती..!
 
 कुछ गुजारिशें ज़िन्दगी से ना की जाए तो ही अच्छा है,
 कम ही होती हैं वो गुजारिशें जिनके मरने  से रूह लाइलाज नहीं होती..!!

No comments:

Post a Comment